Ads Area

aath inch ke lund se chudwaya

नौकर के 8 इंच के लंड ने हालत ख़राब कर दी

नौकर ने की चुदाई , नौकर के 8 इंच के लंड ने लोटपोट कर दिया Naukar ke aath inch ke lund ne lotpot kar diya , उसका बड़ा लंड चूत बुर गांड मुंह में लिया , चुदवाई लौड़ा चुसाई , चुदवाया अपना भोसड़ा , गांड मरवाई.


नौकर ने की चुदाई , नौकर के 8 इंच के लंड ने लोटपोट कर दिया Naukar ke aath inch ke lund ne lotpot kar diya , उसका बड़ा लंड चूत बुर गांड मुंह में लिया , चुदवाई लौड़ा चुसाई , चुदवाया अपना भोसड़ा , गांड मरवाई.

मेरी शादी हुए 3 साल हो गये थे और मैं अपने पति के साथ नये सिटी मे आ गयी थी. उधर सब कुछ अरेंज करने मे काफ़ी टाइम निकल गया. अब मैने अपने पति राज से बोला की एक नोकर रख लो घर पे. वो मान गये और अपने पड़ोस मे ढूँढने लगे. एक मिल गया उसकी उम्र कुछ 28 की रही होगी मजबूत कद का और लंबे कद का मोहन नाम था उसका। पति कहीं पर गये हुए थे और बोला था की मोहन शाम को घर आएगा तो मैं बात कर लूँ। वो शाम को घर आया मैने अपने 36 30 34 फिगर पे साड़ी डाली हुई थी और मेरा ब्लाउज कम गले का था. तभी घंटी बजी और मैने दरवाजा खोला तो देखा की मोहन खड़ा हुआ था और बोला मेडम मैं मोहन।

मैं उसे अंदर ले आई और उसकी नज़र मेरे चुचियो पे ही थी. मैने देखा की वो थोड़ा झिझक रहा था। मैं उसे सभी काम समझा रही थी तभी नीचे झुकने से मेरा पल्लू नीचे गिर गया। और मेरे 36 ब्रेस्ट आधे बाहर नज़र आने लगे. वो उन्हे घूर के देख रहा था। वो चला गया और अब जब राज ऑफिस मे होते थे तभी वो आता था और मेरी बॉडी को देखते देखते काम किया करता था. मुझे शुरू से ही पॉर्न फिल्म देखने की आदत थी, कभी कभी राज के साथ भी देखती थी। एक बार मैने स्कर्ट डाली थी और उसके ऊपर शॉर्ट टॉप था. मैं पॉर्न फिल्म देख रही थी. रूम मे और स्कर्ट ऊपर कर के अपनी चूत को मसल रही थी तभी वो आ गया अंदर और एक दम से मेरा पानी निकल आया। मैने स्कर्ट नीचे कर दी और कुछ बूंदे स्कर्ट पे गिर गई. उसने देखा और चला गया। एक दिन मै लॉन मे घूम रही थी साड़ी पहनी थी मैने और मैं हमेशा से लो नेक ब्लाउस ही पहनती हूँ. तभी मैने देखा की मोहन बाथरूम मे पेशाब कर रहा था और मैने नौकर का 8 इंच का लंड देखा और मन ही मन उछली. पति का मुश्किल से 6 इंच का होगा पता है। आप यह कहानी एडल्ट स्टोरीज वेबसाइट पर पढ़ रहे है।

फिर मैं अचानक उधर गयी और वो घबराकर उसे छुपाने लगा। फिर मैं उसे अपने साथ रूम मे ले गयी और बोली की तुमने जान बूझकर डोर खोला था की मैं देख लूँ। वो बोलने लगा की नही मेडम मैने सोचा आप अंदर होंगी. खैर मैने जानबूझकर अपना पल्लू गिरा दिया और बोली की अपने कपड़े उतारो वो मुस्कुरा दिया और नंगा हो गया. मैं उसके लंड को सहलाने लगी। नौकर का मोटा और काला लंड था. उसने मेरी साड़ी और ब्लाउज उतार दिया और बेड पे लिटा कर चूमने लगा और एक हाथ से पेटिकोट भी उतार दिया। मैंने पेंटी नही डाली थी. एक उंगली मेरे अंदर डाल कर चूत मे घूमाने लगा. मैं धीरे धीरे आवाज़ करने लगी वो बोला मेडम आपकी तो अभी भी टाइट है। मैने बोला मोहन तुम ढीली कर दो. नौकर ने ब्रा के हुक खोल दिए। अब मैं नौकर के सामने एकदम नंगी थी. नौकर मेरी चुचियो को चूसने लगा और काट भी लेता था।

मैने बोला की मोहन आराम से करो पूरा दिन है अपने पास। फिर मैं उसका 8 इंच का तगड़ा लंड लेकर चूसने लगी, 10 मिंनट तक चूसने के बाद सारा पानी मेरे मूह मे ले लिया और पी गयी. फिर हम लिपट के लेटे रहे। थोड़ी देर बाद फिर उसका लंड टाइट हो गया था. आप यह कहानी एएडल्ट स्टोरीज वेबसाइट पर पढ़ रहे है। इस बार उसने मुझे लिटाया और मेरी टाँगे फैला कर अपना लंड मेरी चूत पे रख दिया और धक्के मारने लगा मैं चिल्ला पड़ी की आआहह उ उ उई आ…आ.. मोहन आराम से डालो। फिर वो बोला - मेडम कुछ नही होगा सब ठीक हो जाएगा और एक ज़ोर का धक्का मारा और पूरा लंड अंदर आ गया मैं दर्द से तड़प उठी। फिर उसने अपना लंड बाहर निकाला और अपने लंड को मेरी चूत पर फेरने लगा। मेरी चूत अब और गर्म हो गयी. मेरी चूत उसके लंड को डालने के लिय बेताब हो रही थी।

फिर नौकर ने अपना लंड मेरी चूत मे डाल दिया। उसने धक्के लगाने चालू किए और बोला मेडम आप बड़ी मस्त हो. और अपने लंड को मेरी चूत मे अन्दर बाहर करने लगा। फिर उसने अपनी गति तेज कर दी। और मैं उ उ उई ..उई माँ कर रही थी। और 20 मिनट तक उसने चुदाई की। उसने सारा पानी अंदर ही डाल दिया. फिर हम दोनो 5 मिनट तक 69 मे लेटे रहे। मोहन मेरे चुचियो को दबा रहा था। फिर उसने कपड़े पहने और वो चला गया. अब मैं अपनी चूत को अपनी साड़ी से पोछने लगी। अब मैं घर पर नंगी भी होती हूँ तो वो सारा काम करता है और हम चुदाई भी करते है। जब पति रात की शिफ्ट पे होते है तो वो आता है और हम सोते है. एक बार उसने अपने दोस्त से चुदवाया वो एक दिन मुझसे कहनें लगा की मेरा एक दोस्त है उसे किसी को चोदने का बहुत मन है. लेकिन उसने कभी किसी औरत को नही चोदा है। मैं उससे आपको से चुदवाना चाहता हूँ। मैंने मना कर दिया। मोहन बोला मान जाओ ना जान। मैंने कहा कि वो तुम्हारा दोस्त किसी से बोल देगा तो. वो बोला वो किसी से नही बोलेगा और मैंने हां कर दी। आप यह कहानी एडल्ट स्टोरीज वेबसाइट पर पढ़ रहे है।

फिर मोहन और उसके दोस्त ने दोनों ने मिलकर चोदा। मैं बेड पर नंगी लेटी रहती और दोनो एक एक करके मुझे चोदते। उन्होने मेरे फिगर को दबा दबा कर लटका दिया. और मेरी चूत को चौड़ी कर दिया। फिर तो मोहन का दोस्त भी दुसरे-तीसरे दिन आने लग गया. उसका नाम चंदु था। चंदू और मोहन कभी भी मुझे नंगा कर देते और फिगर को दबाते रहते. अंदर से रूम बंद कर मेरे और अपने कपडे उतार कर पुरे नंगे होकर टी.वी. या मूवी देखते थे। और बहुत मस्ती करते ऐसा तक़रीबन 3 साल तक चला। उसके बाद अभी तक मुझे किसी दूसरे का लंड नही मिला और मुझे अभी तक किसी ऐसे लंड की तलाश है जो मुझे मस्त कर दें।


Ads Area